समाचार

सूरत जिला ट्रैफिक पुलिस द्वारा 32 वा सलामती सुरक्षा को लेकर एक कार्यक्रम रखा गया

सुरत जिला ट्रैफिक द्वारा 32 वा सलामती सुरक्षा को लेकर कामरेज उमा पांडे हॉल में एक जागरूक करने के लिए कार्यक्रम रखा गया

सुरत जिला ट्रैफिक द्वारा 32 वा सलामत सुरक्षा को लेकर एक कार्यक्रम का आयोजन रखा गया जिसमें सूरत जिल्ला रेंज आईजी डॉ.राजकुमार  और सूरत जिला एसपी उषा राडा और ट्रैफिक पुलिस कामरेज पोलिस पीआई ,बारडोली पीआई , कडोदरा GIDC पीआई  एंड बारडोली डिवीजन आरटीओ मितेश बंगाली और सभी ट्रांसपोर्ट के आगे वालों उपस्थित रहे

जिसमें सुरत जिला एसपी उषा राडा द्वारा एक निर्देश देने में आया की जिंदगी इतनी कीमती है वह तो जिसके साथ बीती जाती है उसी को ही मालूम पड़ता है ट्राफिक नियम को बारे में उषा राडा ने सभी को एक जागरूक तरीके बताया कि हर बार ऐसे कार्यक्रम करके जनता को जागरूक करना पड़ता है परंतु आप विदेश में जाकर वहां की ट्राफिक समस्या समझ के वहां के नियम पालन करते हो परंतु आप भारत में रहते हुए भारत के नियम पालन आप नहीं करते इसलिए ऐसे कार्यक्रम

पुलिस को करके जनता को जागरूक करना पड़ता है और सुरत रेंज आईजी डॉ.राजकुमार द्वारा एक संदेश देने में आया कि अंकलेश्वर से लेकर भिलाड  तक हर 2 किलोमीटर के अन्दर सीटीवी कैमरा लगेगा और जो जो भारी वाहन अपनी लाइन के अनुसार चलेंगे ज्यादा लोडिंग हैं

तो वह थर्ड लाइन पर चलना चाहिए उसे कम लोडिंग वाला सेकंड लाइन में और जो फास्ट चलने वाला फर्स्ट लाइन पर चलेगा उसी नियम के अनुसार चलना या पालन करना चाहिये और एक  ट्रैफिक कंट्रोल रुम कडोदरा जीआईडीसी पुलिस मंथन में खोला जाएगा जिससे वहां पर नजर रखी जाएगी इस प्रकार  चीज से जो होने वाले एक्सीडेंट  पर काबू होने की संभावना है ”

 

सूरत से जाने वाली सभी  प्राइवेट लग्जरी बसों द्वारा हर रोज फुल लगेच भरके जाती है यह  प्राइवेट पैसेंजर होते हुए भी लोडिंग वास ओवरलोड बस के ऊपर भर के जाते हैं जिससे कोई बड़ा हादसा हो सकता है क्युकी पेसेंजर वहान होते हुए लगेज ओवर लोड भरके जाते है  परंतु आरटीओ और पुलिस इस पर कार्रवाई क्यों नहीं करती हैं हर बार धरती प्रकश न्यूज़ में प्रकाशित हो चूका है परन्तु अभी तक कोई कार्यवाही करने में नही RTO और पुलिस आँख बंध और कान टेड़े करके क्यों बेठे हुए है ?

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *